बिहार में कोरोना से अनाथ हुए बच्चों को हर महीने मिलेंगे 1500 रुपये

944
0
SHARE

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना महामारी में अनाथ हुए बच्चों के लिए बड़ी घोषणा की है। राज्य सरकार कोविड के दौरान अनाथ हुए बच्चों को हर महीने 1500 रुपये देने का फैसला किया है। नीतीश कुमार ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा – वैसे बच्चे-बच्चियों जिनके माता पिता दोनों की मृत्यु हो गई, जिनमें कम से कम एक की मृत्यु कोरोना से हुई हो, उनको ‘बाल सहायता योजना’ अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा 18 वर्ष होने तक 1500 रू प्रतिमाह दिया जाएगा। जिन अनाथ बच्चे-बच्चियों के अभिभावक नहीं हैं, उनकी देखरेख बालगृह में की जाएगी। ऐसे अनाथ बच्चियों का कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय में प्राथमिकता पर नामांकण कराया जाएगा।

बता दें कि बिहार में कोरोना की दूसरी लहर कहर बनकर टूटी है। राज्य में बड़ी संख्या में बच्चे अनाथ हो गए हैं। किसी परिवार में बच्चे के सिर से पिता का साया उठ गया..तो किसी घर में मां की ममता खत्म हो गई। कुछ परिवारों में तो माता-पिता दोनों की मौत हो गई। ऐसे में बच्चों के सामने भविष्य को लेकर संकट खड़ा हो गया है। पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने भी राज्य सरकारों और जिला प्रशासन को निर्देश दिया कि कोविड के दौरान अनाथ हुए बच्चों की जिम्मेदारी जिला प्रशासन लें और सुनिश्चित करें कि उनका रहन सहन, खान-पान और शिक्षा सही तौर पर तो उपलब्ध हो रही है या नहीं। 


गौरतलब है कि कल ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के दौरान अनाथ हुए बच्चों के लिए बड़ा एलान किया। पीएम ने कहा कि ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता की मौत कोविड-19 महामारी से हुई। उन्हें ‘पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रेन’ योजना के तहत 18 साल की उम्र तक हर महीने आर्थिक मदद दी जाएगी। 23 साल की उम्र पूरी होने पर उन्हें पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपये मिलेंगे। 

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here