बिहार की 17वीं विधानसभा का पहला सत्र का पहला दिन ऐसा रहा

2521
0
SHARE

बिहार में चुनाव नतीजों के ठीक बाद सोमवार 23 नवंबर से 17वीं विधानसभा के सत्र का आगाज हो गया है। सत्र के पहले दिन 191 नवनिर्वाचित विधायकों को प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी ने शपथ दिलाई। वहीं शपथ ग्रहण समारोह के दौरान असदुउद्दी ओवैसी की पार्टी एआइएमआइएम के 5 विधायकों ने अपना मंसूबा जाहिर कर दिया।

अमौर के विधायक अख्तरुल ईमान ने शपथ पत्र में लिखे हिंदुस्‍तान शब्‍द पर आपत्ति जताते हुए हिंदुस्‍तान की जगह भारत बोलने पर अड़े। अख्तरुल ने कहा कि वह भारत के संविधान के नाम पर शपथ लेंगे, न कि हिंदुस्तान के संविधान के नाम पर।

इस पर बीजेपी विधायक नीरज बबलू और प्रमोद कुमार ने कहा जो हिंदुस्‍तान नहीे बोल सकते उन्‍हें पाकिस्‍तान चले जाना चाहिए। आरजेडी के तेजस्‍वी यादव और तेज प्रताप यादव ने भी शपथ ली। तो वहीं कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान ने संस्कृत में शपथ ली। पूर्व सांसद आंनद मोहन के बेटे चेतन आनंद ने अंग्रेजी में और रामप्रीत पासवान ने मैथिली में शपथ ली। इसके बाद सदन की कार्यवाही मंगलवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। अन्य विधायकों को मंगलवार को शपथ दिलायी जाएगी। अब इस नए सत्र में काफी कुछ खास रहने वाला है और विपक्ष नीतीश सरकार को कई मुद्दों पर घेरने की पूरी तैयारी में है। साथ ही कोरोना महामारी के चलते सोशल डिस्टेंसिंग भी नजर आने वाली है।

जदयू MLC देवेश चंद्र ठाकुर और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री संजय झा विंटेज लुक वाली बैटरी से चलने वाली कार से विधानसभा पहुंचे। वे पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा का संदेश देने के लिए इस कार से आए।

सत्र शुरू होते ही विधानसभा के बाहर लेफ्ट और कांग्रेस ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है। दोनों पार्टी महिला उत्पीड़न के मामले में सरकार को घेरने की कोशिश की।


जमुई से चुनकर विधानसभा पहुंची बीजेपी विधायक श्रेयसी सिंह नई विधानसभा के पहले सत्र में काफी उत्साहित दिखीं। श्रेयसी ने कहा कि जिस तरह निशानेबाजी में देश का नाम रोशन किया है, उससे दोगुनी ऊर्जा से राजनीति में काम करूंगी। जनता की उम्मीदों पर खरी उतरूंगी।

डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद सदन में सोते रहे – आएशीतकालीन सत्र के पहले ही दिन डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद सदन में सोते नजर आए। तारकिशोर प्रसाद काफी देर तक ऊंघते दिखे। सदन की कार्यवाही समाप्त होने के दौरान हलचल बढ़ने से उनकी नींद खुली। सदन के अंदर पत्रकार दीर्घा में लगी बड़ी स्क्रीन में सोते हुए डिप्टी सीएम की तस्वीरें साफ दिख रही थी। कई बार टीवी स्क्रीन पर सोते हुए उनकी तस्वीरें दिखीं।

25 को होगा अध्यक्ष का चुनाव –
23 और 24 नवंबर को शपथ ग्रहण के बाद 25 नवंबर को बिहार विधानसभा के अध्यक्ष का चुनाव होगा। साथ ही इसके बाद सत्र की कार्यवाही सुचारू रूप से चलेगी। इसके बाद राज्यपाल के अभिभाषण पर वाद-विवाद भी होगा। विधान परिषद की कार्यवाही 26 और 27 नवंबर को रखी गई है। ये विधानसभा सत्र 27 नवंबर तक चलेगा। कुल मिलाकर बिहार विधानसभा चुनाव के ठीक बाद आयोजित ये सत्र काफी दिलचस्प रहने वाला है। जिसमें नीतीश सरकार की नीतियों का नया रोडमैप तो दिखेगा ही, साथ ही ताकतवर विपक्ष का भी अलग अंदाज नजर आएगा।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here