क्षत्रिय समाज के साथ मुख्यमंत्री के वादा खिलाफी के खिलाफ सैकड़ों साथियों के साथ धनवंत सिंह राठौर 20 सितम्बर को करेंगे आत्मदाह

1891
0
SHARE

क्षत्रिय सेवा महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनवंत सिंह राठौर ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर क्षत्रिय समाज के विरोधी बताते हुए कई आरोप लगाए। श्री राठौर के स्वघोषित मांग राजधानी में महाराणा प्रताप की आदमकद प्रतिमा का निर्माण और जेल में बन्द पूर्व सांसद आनंद मोहन की रिहाई आठ महीने के बाद भी नहीं करने के खिलाफ आगामी 20 सितम्बर को पटना में अपने सैकड़ों साथियों के साथ मुख्यमंत्री आवास के समक्ष आत्मदाह करने की घोषणा की है।

इस आशय का पत्र महासंघ की ओर से प्रधानमंत्री,केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह,रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उप मुख्यमत्री सुशील मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल,जदयू अध्यक्ष सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह, लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान,राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद, विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव को दिया जा चुका है।
श्री राठौर ने कहा कि क्षत्रिय समाज के लिए आज ये दोनों मांग अस्मिता से जुड़ गया है।ये बहुत ही दुःखद है कि जिस नीतिश कुमार को मुख्यमंत्री बनाने में क्षत्रिय समाज के एक एक लोग अपनी जान की वाजी लगा दी थी,आज उसी समाज के लोगो को नीतीश कुमार अंगूठा दिखा रहे है।21 जनवरी को ही उन्होंने खुद घोषणा की थी कि वे राजधानी में शूरवीर महाराणा प्रताप की आदमकद प्रतिमा का निर्माण किया जाएगा और समाज के नेता पूर्व सांसद आंनद मोहन जी को जेल से रिहा कराने की दिशा में जल्द कारवाई शुरू की जाएगी।l लेकिन आज आठ महीनों के बाद कुछ नहीं हुआ।

श्री राठौर आज महासंघ के प्रधान कार्यालय कंकड़बाग में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोल रहे थे।इस अवसर पर अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ विनय बिहारी भैया, बिहार क्षत्रिय एकता समिति के अध्यक्ष राणा सिंह, करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष धीरेन्द्र सिंह, अखिल भारतीय क्षत्रिय सेवा दल के अध्यक्ष नितेश सिंह कच्छवाहा,जनसेवा क्षत्रिय विकास समिति के अध्यक्ष दिवाकर सिंह, चन्द्रशेखर विचार मंच के प्रेम शंकर चौहान , श्री राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय महासचिव गोपाल सिंह,प्रताप फाउंडेशन के अध्यक्ष राजेश सिंह क्षत्रिय सेवा महासंघ के रत्नेश कुमार सिंह एवं मनोज कुमार सिंह भी उपस्थित थे।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here