राठौर का अनिश्चित कालीन आमरण अनशन बारहवें दिन भी जारी, क्षत्रिय सेवा महासंघ ने सरकार की उदासीनता को लेकर निकला आक्रोश मार्च

2152
0
SHARE

पूर्व सांसद आनन्द मोहन की रिहाई व करबिगहिया से आर ब्लॉक पुल के बीच महाराणा प्रताप की प्रतिमा लगाने की मांग को लेकर महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनवंत सिंह राठौर का आमरण अनशन आज बारहवें दिन भी जारी रहा। क्षत्रिय सेवा महासंघ के प्रधान कार्यालय 76 एम आई जी कंकड़बाग मे 9 अगस्त से आमरण अनशन पर बैठे हैं। आश्चर्य की बात ये है कि शासन और प्रशासन की ओर से अभी तक कोई सुध नहीं ली है। उनकी तबियत में भी गिरावट आ रही है, अभी तक उनकी स्वास्थ की जाँच के लिए कोई भी चिकित्सक नही पहुंच पाया है। उनके गिरते स्वास्थ्य को देखते हुए महासंघ के कार्यकर्ताओं ने कंकड़बाग में लोहियापार्क के निकट आक्रोश मार्च निकाला और सरकार विरोधी नारे लगाए और प्रशासन व सरकार से जल्द मांगो को पूरा कर आमरण अनशन समाप्त कराने की मांग की गई।

श्री राठौर ने कहा कि वे जिस मांग को लेकर आमरण अनशन पर है उसकी घोषणा खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 21 जनवरी को पटना में की थी।मुख्यमंत्री दोनो मांग के प्रति संवेदनशील नही दिख रहे है। महाराणा प्रताप की प्रतिमा स्थापित होना और पूर्व सांसद आनन्द मोहन की रिहाई पर मुख्यमंत्री को हर हाल में निर्णय लेना होगा।क्षत्रिय समाज बार बार अब ठगाने बाली नही है। अनशन स्थल पर आनेवालों एवं आक्रोश मार्च में शामिल लोगों में राहुल कुमार,गुरु प्रसाद सिंह, इंद्रजीत प्रसाद, राहुल कुमार सिंह,सोनू सिंह,मनोज कुमार सिंह , कृष्णा सिंह,डॉ आशुतोष कुमार ,संजय सिंह,बिभूती कुमार सिंह,रणजीत कुमार सिंह,यश रंजन राठौर ,किशोर सिंह,पवन सिंह,विशाल प्रताप सिंह,आनन्दसिंह, राजेश कुमार सिंह , पूनम शाह आदि प्रमुख थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here