बिहार सरकार का दावा- नहीं टूटा सत्तरघाट पुल, मुख्य पुल से दूर छोटे पुल की सड़क टूटी

3292
0
SHARE

बिहार सरकार ने दावा किया है कि 264 करोड़ की लागत से बना सत्तरघाट पुल नहीं टूटा है। इसको लेकर सरकार की ओर से बकायदा एक वीडियो भी जारी किया गया है। पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने बताया कि सत्तरघाट पुल में 3 छोटे ब्रिज हैं सत्तरघाट ब्रिज से 2 किलोमीटर दूर छोटे ब्रिज का अप्रोच केवल पानी के तेज बहाव से कटा है। दरअसल आज दिनभर सभी नेशनल चैनल पर 264 करोड़ की लागत से बना सत्तर घाट पुल के टूटने की खबर प्रमुखता से दिखाई जा रही थी। हालांकि यह खबर पूरी तरह सत्य नहीं थी, पुल टुटा जरूर है जिसकी सच्चाई यह है कि सत्तर घाट मुख्य पुल से लगभग दो किमी दूरदर्शन गोपालगंज की ओर एक 18 मी लम्बाई के छोटे पुल का पहुँच पथ कट गया है। यह छोटा पुल गंडक नदी के बांध के अन्दर अवस्थित है। गंडक नदी में पानी का दबाव गोपालगंज की ओर ज़्यादा है । इस कारण पुल के पहुँच का सड़क का हिस्सा कट गया है। यह अप्रत्याशित पानी के दबाब के कारण हुआ है। इस कटाव से छोटे पुल की संरचना को कोई नुक़सान नहीं हुआ है। मुख्य सत्तर घाट पुल जो 1. 4 किमी लंबा है बह पूर्णतः सुरक्षित है। सरकार ने दावा किया है कि पानी का दबाव कम होते ही यातायात चालू कर दिया जाएगा। इस योजना में कोई अनियमितता का मामला नहीं है। यह प्राकृतिक आपदा है। विभाग पूरी तरह मुस्तैद है।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here