सीतामढ़ी में पृथ्वी दिवस पर दर्जनों गावों मे किसानों ने उपवास के साथ दिया धरना

5325
0
SHARE

सीतामढी : संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा सीतामढी के तत्वावधान मे एक दिवसीय उपवास के साथ धरना दिया। जिले मे भारी ओलावृष्टि तथा एक माह से लगातार हो रही वर्षा से दलहन,तिलहन, गेहू,आम,लीची की भारी बर्बादी के विरुद्ध क्षतिअनुदान की सरकार से मांग की। साथ ही कोरोना संकट मे आर्थिक संकट से जूझ रहे किसानों का पंजाव तथा तेलंगाना की भांति घर-घर से गेहूं की सरकारी खरीद कराने,कर्ज से तबाह किसानों के कृषि कर्ज की माफी की भी अपील की है। संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा के संरक्षक डा आनन्दकिशोर ने नकदी के संकट से परेशान किसानों को नई खेती हेतू बीज तथा इनपुटअनुदान,रीगा चीनी मिल के जिम्मे दो वर्षो के गन्ना मूल्य के बकाये115 करोड रूपये तथा लिमीट के 70 करोड़ रूपये का भुगतान कराने की मांग की। उन्होंने धान की सरकारी खरीद मे अनियमितता की जांच तथा पिछले बाढ तथा ओलावृष्टि राहत से बंचित किसानों को राहत का भुगतान कराने की बात कही। वहीं विशेष किसान पैकेज देने की मांग को लेकर मोर्चा कार्यालय तथा जिले के दर्जनों गावों में एक दिवशीय उपवास तथा धरना आयोजित कर सरकार से कार्रवाई की मांग की गई ।

जिला तथा प्रखण्डों मे उपवास तथा धरना का नेतृत्व मोर्चा के संरक्षक डाआनन्दकिशोर, जिलाअध्यक्ष जलंधर यदुबंशी, वीणा देवी,लालबाबू मिश्र, चन्देश्वर नारायण सिंह,जीवनाथ शाफी, केदार शर्मा, शंकर मंडल, ब्रजमोहन मंडल,विनोद बिहारी मंडल, ताराकांत झा, कामेश्वर सिह, नरेश साह सीताराम महतो, आफताबअंजुम, संजय कुमार,भोला बिहारी,पारसनाथ सिह, हरिनारायण सिह, प्रो दिगम्बर ठाकुर,नन्दकिशोर मंडल, अजय महतो, गांधीवादी चिंतक प्रमोद कुमार मिश्रा, मो गयासुद्दीन, उपेन्द्र प्रसाद कापड, प्रो ललन कुमार, नीला देवी के नेतृत्व में सीतामढी शहर रीगा,मेजरगंज,परिहार,बाजपट्टी, रून्नीसैदपुर,नानपुर, सुप्पी, डूमरा,पुपरी, बोखडा,बथनाहा,सुरसण्ड प्रखण्डों के दर्जनों गांवों मे सत्याग्रह काआयोजन किया गया तथा सीएम तथाडीएम को पुन: स्मारपत्र भेजा गया।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here