महागठबंधन से मांझी का हो रहा मोहभंग

2505
0
SHARE

बिहार विधानसभा चुनाव में अब छह महीने का वक्त ही बचा है। इस बीच महागठबंधन दलों के बीच लगातार अनबन की खबर सामने आ रही है। मंगलवार को सीएम नीतीश कुमार और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की मुलाकात के बाद से ही बिहार में सियासी सरगर्मी बढ़ गई है। नीतीश से मुलाकात करने से एक दिन पहले मांझी ने राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को धमकी देते हुए कहा कि यदि राजद अपना रवैया नहीं बदलती है तो वह मार्च के बाद एक बड़ा फैसला लेंगे के लिए आजाद होंगे। नीतीश और मांझी की इस मुलाकात को महागठबंधन में जारी टकराव से जोड़कर देखा जा रहा है। नीतीश और मांझी की देर तक चली इस मुलाकात के राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं। माना जा रहा है कि मांझी आरजेडी द्वारा उनकी उपेक्षा किए जाने की प्रतिक्रिया में नई राजनीतिक संभावनाओं को तलाश रहे हैं। महागठबंधन में इस टकराव के बीच मांझी-नीतीश मुलाकात पर जेडीयू ने कहा कि राजनीति संभावनाओं का खेल है। आगामी 10 अप्रैल को हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा की एक बड़ी रैली का आह्वान कर सियासत को थोड़ा और गर्मा दिया है। जानकारी के अनुसार अगर महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर बात नहीं बनी, तो इस दिन मांझी कोई बड़ा ऐलान भी कर सकते हैं।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here