जामिया में पुलिस के सामने युवक ने तुम्हें आजादी चाहिए कहते हुए की फायरिंग

6641
0
SHARE

जामिया के छात्रों ने महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर जामिया से राजघाट तक नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ मार्च निकाला है। इस मार्च के दौरान उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक युवक ने प्रदर्शन के दौरान गोली चला दी, जिससे एक प्रदर्शनकारी घायल हो गया है। गोली चलाने वाले युवक का नाम गोपाल है जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

बताया जा रहा है कि युवक अचानक दूसरी दिशा से सामने आया और हवा में पिस्तौल लहराते हुए बोला कि आओ मैं तुम्हें आजादी देता हूं और फिर उसने गोली चला दी।आरोपी ग्रेटर नोएडा के जेवर का रहने वाला है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है और इस बात का पता लगा रही है कि वह प्रदर्शन के दौरान हथियार लेकर क्यों आया था। आरोपी गोपाल खुद को राम भक्त बता रहा है। वहीं, जो छात्र हमले में घायल हुआ है उसकी पहचान जामिया के मास कॉम के छात्र शादाब आलम के रूप में हुई है।

घायल छात्र का इलाज पास के ही होली फैमिली अस्पताल में चल रहा है। बता दें कि दिल्ली पुलिस ने जामिया से राजघाट तक मार्च करने की अनुमति नहीं दी थी। इसके बाद भी स्थानीय लोग प्रदर्शन करने के लिए सड़कों पर उतर गए। वहीं प्रदर्शनकारी छात्र एक जगह इकट्ठा होकर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। वहीं इस घटना के बाद आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह पर दिल्ली का माहौल खराब करने का आरोप लगाया है। सीपीआई के महासचिव डी राजा ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि ऐसी घटना महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर हुई है। राजा ने कहा, जामिया फायरिंग की घटना दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा नेताओं द्वारा भड़काऊ बयानों का सीधा परिणाम है।वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि केंद्र सरकार इस तरह की किसी भी घटना को बर्दाश्त नहीं करेगी। अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि आज दिल्ली में गोली चलाने की घटना हुई है उसपर मैंने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात की है और उन्हें कठोर से कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here