शरजील इमाम पर सर्जिकल स्ट्राइक

5680
0
SHARE

शाहीन बाग विरोध प्रदर्शन के कथित सह समन्वयक और जेएनयू छात्र शरजील इमाम को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शरजील को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया है। रात 9 बजे पुलिस टीम शरजील को पटना के महिला थाने लेकर पंहुची। शरजील इमाम की आज की रात पटना के महिला थाना में गुजरेगी। महिला थाने में कड़ी सुरक्षा के बीच दिल्ली क्राइम ब्रांच के अधिकारी उससे पूछताछ कर रहे हैं। महिला थाने का मुख्य प्रवेश द्वार बंद कर दिया गया है और किसी के भी आने-जाने पर प्रतिबन्ध है। अब बुधवार की सुबह दिल्ली पुलिस उसे फ्लाइट से लेकर दिल्ली के लिए रवाना होगी। इससे पहले पुलिस ने मंगलवार की सुबह शरजील की तलाश में उसके घर पर छापा मारा था। जहां से पुलिस ने शरजील के भाई मुजम्मिल इमाम को हिरासत में लिया था। गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने मुंबई, पटना और दिल्ली में शरजील की तलाश में छापेमारी की थी। दिल्ली पुलिस को डर था कि अगर वह बिहार के रास्ते नेपाल भाग गया, तो वापस लाने में बहुत मुश्किल होगी। दिल्ली पुलिस ने सोमवार को बताया था कि उसे आखिरी बार 25 जनवरी को देखा गया था। वह शाम को बिहार के फुवारी शरीफ में एक बैठक में दिखा था। शरजील ने कथित तौर पर एक वीडियो में कहा था कि असम को भारत से अलग कर देंगे। यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शाहीन बाग में कथित विवादित टिप्पणी करने वाले जेएनयू छात्र शरजील के बहाने विपक्ष पर निशाना साधा है। अमित शाह ने रायपुर में कहा कि उसके शब्द कन्हैया कुमार से भी ज्यादा खतरनाक हैं। वह अब जेल में रहेगा। वहीं जेएनयू छात्र शरजील इमाम की गिरफ्तारी पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि किसी को भी ऐसा कुछ नहीं करना चाहिए जो राष्ट्र के हित में न हो। आरोप और गिरफ्तारी, अदालत मामले पर फैसला करेगी।

शरजील इमाम की गिरफ्तारी के विरोध में मंगलवार शाम को एएमयू में छात्रों का आक्रोश फूट पड़ा। कैंपस में देर शाम शरजील की गिरफ्तारी के विरोध में मार्च निकाला गया और उसकी रिहाई की मांग की गई।एलान किया गया कि अगर उसे जल्द रिहा नहीं किया गया तो ऐसा कुछ होगा, जिसका अंदाजा किसी ने नहीं लगाया होगा। एएमयू प्रशासन ने इस मार्च की निंदा करते हुए इसमें शामिल छात्रों को चिह्नित करने और उन पर कार्रवाई करने की बात कही है।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here