अमेरिका के मिसाइल हमले में मारा गया ईरान का जनरल सुलेमानी

7455
0
SHARE

इराक के बगदाद हवाई अड्डे पर अमेरिकी सेना द्वारा किए गए मिसाइल हमले में ईरान के
जनरल कासिम सुलेमानी सहित 8 लोगों की मौत हो गई है। ताजा हमले के बाद अमेरिका और ईरान में तनाव और बढ़ने के आसार हैं। वहीं इराक से भी अमेरिकी संबंधों में खटास आ सकती है। अमेरिका ने तीन मिसाइल दागे जिससे बगदाद हवाई अड्डे पर भीषण तबाही मची। हवाई अड्डे पर मौजूद ईरान और हिज्बुल्लाह की संपत्तियों को भारी नुकसान पहुंचा। अमेरिका ने यह हमला खुफिया जानकारी मिलने के बाद किया। अमेरिका ने यह भी दावा किया कि मारा गया ईरानी कमांडर अमेरिकी नागरिकों पर हमले की साजिश रच रहा था। 

बता दें कि पिछले 20 सालों में अमेरिका, इजरायल और अरब एजेंसियों ने सुलेमानी को मारने के लिए तमाम प्रयास किए लेकिन वह हर बार बचता रहा था। ईरान और इराक की सेना से जुड़े लोगों पर यह हमला अमेरिकी दूतावास पर ईरान समर्थित भीड़ के हमले के दो दिन बाद हुआ है। 31 दिसंबर को ईरान समर्थित कुछ प्रदर्शनकारियों ने दूतावास के गेट तोड़ दिए थे और बाहर आग लगा दी थी। इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि ईरान को अमेरिकियों के जान-माल के नुकसान के लिए बड़ी कीमत चुकानी होगी। वहीं ईरान ने सुलेमानी की मौत पर तीन दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित कर दिया है।

अमेरिकी मिसाइल हमले में सुलेमानी की मौत से भड़के ईरान ने स्विटजरलैंड के राजदूत को तलब किया है। ईरान में अमेरिका का दूतावात नहीं है। वहां स्विटजरलैंड ही अमेरिका का प्रतिनिधित्व करता है। इसी वजह से ईरान ने उन्हें तलब किया है। सुलेमानी की मौत को लेकर इरान के विदेश मंत्री जावेद जरीफ ने अमेरिका पर हमला बोला है। उन्होंने बगदाद हवाई अड्डे पर किए मिसाइल हमले को मूर्खतापूर्ण कदम बताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि अमेरिका का जनरल सुलेमानी को निशाना बनाने और उनकी हत्या करने के अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद का कदम बहुत खतरनाक और मूर्खतापूर्ण है। उनका बल प्रभावी रूप से दाएश (आईएसआईएस), अल नुसराह, अल कायदा एट अल से लड़ता था। अमेरिका को अपने इस दुस्साहस की भारी कीमत चुकानी होगी।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here