नीतीश कैबिनेट ने 10 प्रस्‍तावों पर लगाई मुहर,1533 पदों पर बहाली की दी मंजूरी

5327
0
SHARE

बिहार कैबिनेट की बैठक मंगलवार को सीएम नीतीश कुमार ने की अध्‍यक्षता में संपन्‍न हुई। कैबिनेट की हुई इस बैठक में 10 प्रस्‍तावों पर मुहर लगाई गई है। बिहार राज्य मंत्रिपरिषद ने पटना स्थित इंदिरा गांधी हृदयरोग संस्थान (आईजीआईसी) को 250 बेड का अस्पताल बनाने के लिए वहां 383 नए पदों को स्वीकृति प्रदान की। इसमें मेडिकल, सर्जिलक, एनेस्थेशिया, पैथोलॉजी, रेडियोलॉजी और पेडियाट्रिक कार्डियोलॉजी में 42 विशेष चिकित्सक ग्रेड-2 की तैनाती होगी। मंगलवार को कैबिनेट ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। आईजीआईसी में फिलहाल 145 बेड हैं। कैबिनेट विभाग के प्रधान सचिव डॉ.दीपक प्रसाद ने बताया कि आईजीआईसी में विशेषज्ञ चिकित्सकों के साथ-साथ प्रशासनिक, तकनीकी और गैर-तकनीकी स्तर पर भी बहाली होगी। विशेष चिकित्सक ग्रेड-2 पद पर बहाल होने वालों में मेडिकल कार्डियोलॉजी के 14, सर्जिलक कार्डियोलॉजी के 10, एनेस्थेसिस्ट कार्डियोलॉजी के 8, पैथोलॉजी कार्डियोलॉजी के 4, रेडियोलॉजी कार्डियोलॉजी के 4 और पेडियाट्रिक कार्डियोलॉजी के 2 पद होंगे। इसके अलावा इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (आईजीआईएमएस) के कार्डियोलॉजी, कार्डियक लैब और कार्डियोथोरेसिक सर्जरी विभाग के लिए परफ्यूजनिस्ट के 6 पदों का सृजन किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मधुबनी के झंझारपुर में ट्रॉमा सेंटर के लिए कुल 73 पदों पर बहाली के प्रस्ताव को भी कैबिनेट ने मंजूरी दे दी। नवादा के खंडवा में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए 61 पदों के सृजन को मंजूरी दी गई है।राज्य के सरकारी पार्कों और लॉन के रखरखाव के लिए 1000 स्थाई माली बहाल किए जाएंगे। कैबिनेट ने भवन निर्माण विभाग के इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। फिलहाल 245 कार्यभारित माली हैं। इसमें 100 माली इसी वर्ष रिटायर हो जाएंगे। इसी तरह पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन विभाग में कार्यालय व क्षेत्रीय कार्यों के लिए कॉन्ट्रैक्ट पर 9 पदों का सृजन किया गया है।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here