बिहार में टूटकर बिखरा महागठबंधन

14484
0
SHARE

बिहार में महागठबंधन बिखराव की कगार पर जा पहुंचा है। पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हम के बाद अब कांग्रेस ने भी महागठबंधन से अलग होने के संकेत दे दिए हैं। गौरतलब है कि बिहार की समस्तीपुर लोकसभा सीट के साथ-साथ पांच विधानसभा सीटों पर 21 अक्टूबर को उपचुनाव होने हैं। इनमें नाथनगर, बेलहर, सिमरी बख्तियारपुर, दरौंधा और किशनगंज विधानसभा सीटें हैं। आरजेडी ने चार सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा भी कर दी है। आरजेडी ने राबिया खातून को नाथनगर से अपना उम्मीदवार बनाया है, वहीं रामदेव यादव को बेलहर से टिकट दिया है। इन दोनों उम्मीदवारों को पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने पार्टी का सिंबल दे दिया है। इसके अलावा आरजेडी ने सिमरी बख्तियारपुर से जफर आलम को भी उम्मीदवार बनाने का मन बनाया है और दरौंदा सीट से भी आरजेडी अपना उम्मीदवार उतारने का फैसला किया। जिसके बाद कांग्रेस ने सभी पांच सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस के बिहार प्रभारी सचिव वीरेंद्र सिंह राठौर ने कहा कि पार्टी ने पांचों सीटों पर पैनल तैयार किया है। हमारे सभी कार्यकर्ता पूरे जोश में है। राठौर ने कहा कि कांग्रेस ड्राइविंग सीट पर ही रहेगी। राठौर ने कहा कि हमने कुछ दिन भले ही दूसरे को ड्राइवर बना दिया था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। पैनल से तैयार पांचों नाम कांग्रेस आलाकमान को भेजा गया है और अब आगे का स्वरूप आलाकमान ही तय करेगा। पार्टी की बैठक में हुए इस फैसले से साफ हो गया है कि वर्ष 2019 का चुनाव राजद के साथ मिलकर लड़ने वाली कांग्रेस काफी वक्त बाद अब बिहार के चुनावी मैदान में अकेले उतरेगी।

विकासशील इंसान पार्टी ने बिहार में होने वाले उपचुनावों में सिमरी बख्तियारपुर विधानसभा सीट से महागठबंधन के उम्‍मीदवार के रूप में दिनेश निषाद के नाम की घोषणा कर दी है। वहीं जीतन राम मांझी ने उपचुनाव को लेकर कटिहार के आजमनगर में कार्यकर्ता सम्मलेन में तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि विधानसभा सत्र के बाद से ही तेजस्वी यादव का लक्षण सही नहीं है। लगता है NDA को लेकर उनके दिल मे सॉफ्ट कार्नर है। मांझी ने जोर देते हुए कहा कि उपचुनाव में वीआईपी और हम एक दूसरे की मदद करेंगे ये तय हो चुका है। मांझी ने कहा कि तेजस्वी के इस फैसले से VIP के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी और रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा भी नाराज हैं। वहीं महागठबंधन में टूट की ख़बरों के बीच आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह का बड़ा बयान सामने आया है। रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा है कि सभी पार्टी RJD में विलय कर ले।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here