पटना में चल रहे सेक्स रैकेट में राजनेताओं की मिलीभगत

11193
0
SHARE

देह व्यापार के धंधे में जबरन धकेली गई एक नाबालिग लड़की के बयान से बिहार में सफेदपोशों का काला सच सामने आ गया है। कोर्ट में दिए गए बयान में पीड़ित लड़की ने एक विधायक का जिक्र किया है जिसके पास उसे भेजा जाता था। हालांकि उसने उसका नाम नहीं बताया है। नाबालिग ने कोर्ट में दिये बयान में आरा के एक इंजीनियर के आवास और होटलों में भी ले जाने की बात कही है। अब पुलिस विधायक की पहचान और मास्टरमाइंड की गिरफ्तारी में जुटी है। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि आखिर वो विधायक कौन है? इस मामले पर आरा के एसपी सुशील कुमार ने कहा कि किशोरी ने किसी विधायक का नाम नहीं लिया है। सिर्फ एक विधायक के पास भेजे जाने की बात कही है। हम पूरे मामले की तह तक जाने की कोशिश कर रहे हैं। बता दें कि 2 दिन पहले आरा की रहने वाली पीड़ित लड़की के माध्यम से भोजपुर में पुलिस ने पटना में चल रहे बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा किया था। इस सेक्स रैकेट का मास्टरमाइंड अभी भी फरार बताया जा रहा है। इस मामले भोजपुर पुलिस के हत्थे चढ़ी संदेश थाना क्षेत्र के मनियक्ष गांव निवासी संजय राम की पत्नी अनिता देवी ने पुलिस को बताया कि वह पटना में संजय पासवान उर्फ पंडित उर्फ जीजा के कहने पर लड़कियों को गलत काम के लिए भेजता था। साथ ही उससे भी देह व्यापार का धंधा करवाया जाता था। अनिता ने यह भी बताया है कि इस सेक्स रैकेट के धंधे में लिप्त सभी लड़कियों को पटना में रामलखन पथ स्थित भोजपुर कॉलोनी में रखा जाता था। अब देखना दिलचस्प है की आनेवाले दिनों में कौन कौन से विधायक और सफेदपोशों के नाम का खुलाशा होता है और सुशासन की सरकार में ये सफेदपोश कब सलाखों के पीछे होते हैं ?

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here