दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 81 साल की उम्र में निधन

7917
0
SHARE

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन हो गया है।लंबे समय से बीमार चल रही शीला दीक्षित को दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया। आज यानी शनिवार सुबह उन्हें दिल्ली के एक्सकॉर्ट्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दोपहर 3.55 बजे उन्होंने अंतिम सांस लीं। शीला दीक्षित के निधन की खबर से देश में शोक की लहर छा गई है। शीला दीक्षित दिसंबर 1998 से दिसंबर 2013 तक दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रहीं। मुख्यमंत्री रहने के बाद शीला दीक्षित केरल की राज्यपाल भी रह चुकी थीं। शीला दीक्षित साल 1984 से 1989 तक उत्तर प्रदेश के कन्नौज से सांसद भी रह चुकी थीं।वह प्रधानमंत्री कार्यालय में 1986 से 1989 तक संसदीय कार्यराज्यमंत्री रहीं। वर्तमान में वे दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष थीं। 81 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। शीला दीक्षित का जन्म 31 मार्च 1938 को पंजाब के कपूरथला में हुआ था। शीला दीक्षित को दिल्ली का चेहरा बदलने का श्रेय दिया जाता है। उनके कार्यकाल में दिल्ली में कई विकास कार्य हुए। दिल्ली वासियों को मेट्रो ट्रैन का तोहफा शीला दीक्षित ने ही दिया। शीला दीक्षित ने कांग्रेस को बुलंदी पर पहुंचाया। दिल्ली में कांग्रेस के लिए खेवनहार बनी रहीं। कहते हैं कि जब पूरे देश में कांग्रेस के खिलाफ हवा थी, तब भी शीला ने अकेले अपने दम पर दिल्ली की सल्तनत बनाए रखी। साल 1998 के लोकसभा चुनावों में शीला दीक्षित को भारतीय जनता पार्टी के लाल बिहारी तिवारी ने पूर्वी दिल्ली क्षेत्र में मात दी। वहीं दिल्ली के विधानसभा चुनाव में अरविंद केजरीवाल से कराड़ी शिकस्त मिली। वे इसी साल हुए लोकसभा चुनाव में उत्तर-पूर्व दिल्ली से लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ीं थीं। हालांकि, उन्हें भाजपा के मनोज तिवारी ने हरा दिया था। वे अंतिम सांस तक कांग्रेस के कायाकल्प में जुटी रहीं। एक ओर जहां कांग्रेस अपने नाजुक राजनीतिक दौर से गुजर रही है, ऐसे में शीला दीक्षित जैसी दिग्गज नेता का जाना कांग्रेस के लिए बहुत क्षतिपूर्ण होगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सोनिया गाँधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत तमाम नेताओं ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है। उनका अंतिम संस्कार रविवार 21 जुलाई, दोपहर 2.30 बजे निगमबोध घाट पर होगा।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here