भारत फिर से इजरायल से खरीदेगा स्पाइस 2000 बम

11146
0
SHARE
OLYMPUS DIGITAL CAMERA

बालाकोट एयर स्ट्राइक में अपनी क्षमता का लोहा मनवा चुका भारत, स्पाइस 2000 बम के एडवांस वर्जन को खरीदने की तैयारी कर रहा है। यह बम किसी भी प्रकार की बिल्डिंग और बंकर को तबाह करने में सक्षम है। अपने लक्ष्य को सटीकता के साथ साधने में माहिर यह बम भारतीय वायुसेना के रीढ़ की हड्डी है। पुलवामा आतंकी हमले के जवाब में भारत की ओर से 26 फरवरी को किए गए बालाकोट एयरस्ट्राइक में जिस स्पाइस बम का इस्तेमाल किया गया था, भारतीय सेना अब इसी एडवांस बम को इजराइल से खरीदने जा रही है। स्पाइस 2000 का इस्तेमाल भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में छिपे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों को निशाना बनाते हुए उनका खात्मा करने के लिए किया था। स्पाइस बम ने आतंकियों के ठिकाने को नष्ट करने के लिए पहले वहां बड़ा होल बनाया, फिर अंदर घुसा जहां खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 26 फरवरी से पहले जैश के करीब 300 आतंकी छिपे हुए थे। सूत्रों के अनुसार, इस हमले में बड़ी संख्या में आतंकी ढेर हो गए थे और खासा नुकसान भी पहुंचा था। इसके अलावा भारतीय वायुसेना सुखोई 30 फाइटर एयरक्रॉफ्ट को भी अपने बेड़े में शामिल करना चाहती है, जिससे सेना की क्षमता में और वृद्धि हो और दुश्मन के साथ हवाई संघर्ष में जोरदार ढंग से मुकाबला कर सके। आपको बता दें कि इस स्पाइस को इजराइल ने विकसित किया है। स्पाइस बम 3 तरह (स्पाइस 1000, स्पाइस 2000 और स्पाइस 250) के हैं। स्पाइस 2000 का वजन 900 किलो का होता है जिसमें आगे के हिस्से में MK-84, BLU-109 और RAP-2000 समेत कई तरह के बम लगे होते हैं।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here