हेमंत करकरे वाले बयान पर प्रज्ञा का यू टर्न

11481
0
SHARE

26/11 आतंकी हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे के खिलाफ की गई टिप्पणी को साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने वापस ले लिया है। उन्होंने कहा कि उनके बयान से दुश्मन मजबूत हो रहे हैं इसलिए वह अपनी टिप्पणी वापस ले रही हैं। इससे पहले प्रज्ञा ठाकुर ने दावा किया था कि मुंबई के आतंकवाद निरोधक दस्ते के पूर्व प्रमुख हेमंत करकरे ने उन्हें मालेगांव विस्फोट मामले में गलत तरह से फंसाया था और वह अपने कर्मों की वजह से मारे गए। मुंबई आतंकी हमले के शहीद और पूर्व एटीएस चीफ हेमंत करकरे के बारे में साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर के बयान से बीजेपी ने पहले ही किनारा कर लिया है।साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि अगर किसी ने हमें प्रताड़ित किया तो हमने उसको कह दिया है। यह बिल्कुल हमारा व्यक्तिगत बयान है न की पार्टी का। लेकिन हमारे देश के दुश्मनों को इस से बल मिलता है तो मैं अपना बयान वापस लेती हूं। वहीं चुनाव आयोग की तरफ से कार्रवाई किए जाने पर साध्वी ने कहा कि उनको जो कार्रवाई करनी होगी करनी चाहिए मैं उसका जवाब दूंगी। आपको बता दें कि वर्ष 2008 में हुए 26/11 मुंबई हमले में मारे गए 166 लोगों के अलावा आतंकियों की गोलियों से मुंबई एटीएस चीफ हेमंत करकरे, एसीपी अशोक कामटे और एनकाउंटर विशेषज्ञ विजय सालस्कर सहित 17 पुलिसकर्मी भी शहीद हो गए थे। ‘अशोक चक्र से सम्मानित दिवंगत आईपीएस हेमंत करकरे पर प्रज्ञा ठाकुर के दिए गए बयान की हर तरफ आलोचना हो रही है।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here