क्या गया में हम(से ) दिखायेगा दम ?

13391
0
SHARE

चुनावी मौसम में नेताओं का इधर से उधर जाना लगातार जारी है। जहां हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (से.) से निकलकर वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री महाचंद्र प्रसाद सिंह, अजीत कुमार ने अपनी अलग पार्टी “हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा यूनाइटेड “का गठन कर लिया है। वृषण पटेल सहित कई पुराने नेता और कार्यकर्ता पार्टी से पहले ही किनारा कर चुके हैं। ऐसे में हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (से.) के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष रंजीत कुमार चंद्रवंशी ने पार्टी में शामिल होने के बाद से लगातार अपनी सक्रीय भूमिका निभा रहे हैं। हम (से) से लोगो को जोड़ने के लिए प्रयासरत हैं, इसी कड़ी में उन्होने भाजपा के कार्यकर्ताओं को अपने पार्टी से जोड़ा है। जहां इन्होने अजय कुमार को पार्टी के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव के पद पर मनोनीत किया है।अजय कुमार पहले भाजपा के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के नेता थे। वहीं दूसरी तरफ रंजीत कुमार चंद्रवंशी ने गया के राजेंद्र प्रसाद उर्फ़ राहुल चंद्रवंशी और गौतम प्रजापति को सैकड़ों समर्थकों के साथ पार्टी में शामिल कराया। खास बात ये है कि राजेंद्र प्रसाद और गौतम प्रजापति भी भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता थे।रंजीत कुमार चंद्रवंशी ने राजेंद्र चंद्रवंशी को अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ का महसचिव नियुक्त किया। वहीं गौतम प्रजापति को अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ का उपाध्यक्ष नियुक्त किया। लोकसभा के पहले चरण में गया में चुनाव होना है। यहाँ से हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी के सामने चुनावी मैदान में जदयू के विजय मांझी हैं। दोनों दलों के नेता और कार्यकर्ता अपने अपने उम्मीदवारों के समर्थन में वह मौजूद हैं। रंजीत कुमार चंद्रवंशी भी पूर्व सीएम मांझी के जीत को सुनिश्चित करने के लिए वहां लोगों को पार्टी से जोड़कर हर संभव प्रयास कर रहे हैं। आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव की तारीखें जैसे जैसे नजदीक आती जा रही है वैसे ही नेताओं और कार्यकर्ताओं की सक्रियता भी बढ़ती जा रही है।

अजय झा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here