सवर्ण आरक्षण बिल : राज्यसभा में 10 फीसदी सवर्ण आरक्षण संविधान संशोधन बिल पास

5841
0
SHARE

आर्थिक रूप से पिछड़े हुए सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देने के मामले पर राज्यसभा में वोटिंग हुई. बिल के पक्ष में 165 वोट पड़े और बिल के विपक्ष में 7 वोट पड़े. वहीं, राज्यसभा में बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने की मांग खारिज हुई. केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने इस बिला को सदन के पटल पर रखा. बहस में भाग लेते हुए भाजपा सांसदों ने कांग्रेस को बड़ा दिल दिखाने को कहा.

सवर्ण बिल पर चर्चा के बाद केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने कहा कि अच्छे मन से और अच्छी नीति के साथ नरेंद्र मोदी की सरकार यह बिल लेकर आ रही है.उन्होंने कहा कि लगभग 36 लोगों ने इस बिल पर चर्चा की और 2-3 दलों को छोड़कर बाकी सभी ने इसका समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि पहली बार सवर्णों को आरक्षण मिलने जा रहा है.

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि कांग्रेस ने 70 सालों से सवर्णों से धोखा दिया है इसलिए मैं कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुआ. अठावले ने कहा कि सवर्णों को आरक्षण देकर मोदीजी ने मारा है छक्का, 2019 में विजय है उनका पक्का. मोदीजी और शाहजी मुझे दे देंगे थोड़ा धक्का तो मैं कांग्रेस के खिलाफ मार पाऊंगा छक्का. उन्होंने कहा कि चुनाव नजदीक आ गया है इसलिए बिल लाने की जरूरत है.

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा कि सरकार गरीब सवर्णों को धोखा दे रही है. उन्होंने कहा कि नागपुर प्रमुख बोल चुके हैं कि आरक्षण खत्म होना चाहिए इसलिए सरकार यह आरक्षण लेकर आई है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here