नीतीश कुमार की नजर बिहार के सवर्ण वोटरों पर

2175
0
SHARE

 

पटना में जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के आवास पर इसको लेकर एक हाई लेवल बैठक आयोजित की गयी।लोकसभा चुनाव मे जदयू के बेहतर प्रदर्शन को लेकर सीएम नीतीश ने मोर्चा संभाल लिया है। इसके लिए वो हर हथकंडा अपनाने में जुटे हैं। इसी कड़ी में नीतीश कुमार की नजर बिहार के सवर्ण वोटरों पर है। सवर्ण वोटरों को अपने पाले में कैसे लाएं, इसके लिए नीतीश कुमार रणनीति बना रहे हैं।
जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के आवास पर आयोजित बैठक में मंत्री जय कुमार सिंह, वशिष्ठ नारायण सिंह सहित 30 से अधिक नेता मौजूद थे। सभी नेताओं ने सीएम नीतीश को सलाह दी कि सवर्ण वोटरों को अबतक बीजेपी का वोटर माना जाता है। ऐसे में उन्हें जदयू के खेमे में लाने के प्रयास करने चाहिए। इसके लिए इस समाज को चुनाव में अधिक-से-अधिक भागीदार बनाया जाए ताकि उस समाज में भी जदयू के प्रति विश्वास बहाल हो सके। बैठक में सीएम नीतीश कुमार भी पहुंचे थे। सीएम ने पार्टी के सवर्ण समाज से जुड़े नेताओं के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने पार्टी नेताओं से पूछा कि आखिर सवर्ण वोटरों को साधने के क्या उपाय हैं ?
आपको बता दें की सवर्ण वोटरों की नाराजगी का परिणाम पिछले तीन राज्यों के चुनाव में बीजेपी देख चुकी है। यही वजह है की नीतीश कुमार बिहार में सवर्ण वोटरों की नाराजगी मोल नहीं लेना चाहते। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर भी सवर्ण वोटरों को पार्टी से जोड़ने के लिए खास रणनीति बना रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here